विदाई बरात में शामिल तीन और पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

अंबेडकरनगर। भगीरथ प्रयास न्यूज़ नेटवर्क। बसखारी थाने के एसओ मनोज सिंह की शाही विदाई बरात में शामिल होने के मामले में गाज गिरने का दौर जारी है। इंस्पेक्टर के निलंबन व दस सिपाहियों के लाइन हाजिर होने के बाद अब शुक्रवार को डायल-112 सेवा के तीन और पुलिसकर्मियों को एसपी आलोक प्रियदर्शी ने लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं आरोपी इंस्पेक्टर व 10 सिपाहियों पर मुकदमा भी दर्ज करा दिया गया है।
मामले में इंस्पेक्टर मनोज सिंह व 10 सिपाहियों पर गुरुवार को ही कार्रवाई की गई थी। अब जांच के बाद शाही विदाई बरात में डायल-112 सेवा का एक वाहन भी दिखाई पड़ रहा था। इसे देखते हुए डायल 112 के जिला प्रभारी एनएन शर्मा ने अपनी रिपोर्ट पुलिस अधीक्षक को भेजी थी। एसपी आलोक प्रियदर्शी ने अब पीआरवी चालक दीपचंद, कांस्टेबल कांशीराम यादव व तथा हेड कांस्टेबल प्रदीप सिंह को लाइन हाजिर कर दिया है। इनमें चालक दीपचंद्र होमगार्ड है। डायल 112 प्रभारी एनएन शर्मा ने बताया कि होमगार्ड को भी लाइन में आमद कराने को कहा गया है।
उधर, लॉकडाउन का उल्लंघन कर विदाई जुलूस निकालने वाले थानेदार मनोज सिंह व 10 सिपाहियों पर बसखारी पुलिस ने केस दर्ज किया है। सभी 10 पुलिस कर्मियों पर चार अलग-अलग धाराओं में केस दर्ज हुआ है। उधर, पूरे मामले में अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने विभागीय जांच शुरू कर दी है। मालूम हो कि टांडा विधायक संजू देवी की नाराजगी के बाद बीते दिनों बसखारी एसओ मनोज सिंह को यहां से हटाकर जैतपुर थाने भेजा गया था। जैतपुर में चार्ज लेने के लिए रवाना होते समय मनोज सिंह ने बसखारी थाने से दो दिन पहले बकायदा शाही विदाई जुलूस निकाला। इसका वीडियो गुरुवार को वायरल हो गया।
वीडियो वायरल होते ही थाने से नदारद हुआ लग्जरी वाहन
अंबेडकरनगर। बसखारी थाने के इंस्पेक्टर मनोज सिंह ने जिस वाहन से विदाई जुलूस निकाला था, वह मामले के तूल पकड़ने के बाद थाने से नदारद हो गया। इससे पहले संबंधित वाहन एक माह से भी अधिक समय से थाने परिसर की ही शोभा बढ़ा रहा था। किसी भी प्रकार के अन्य विवाद से बचने के लिए वाहन को आननफानन में थाना परिसर से हटा लिया गया।
विदाई जुलूस में थानेदार मनोज सिंह एक खुली जीप में सवार थे। वह भी इस अंदाज में मानो कोई शाही सवारी निकल रही हो। जीप के पीछे तीन सिपाही इस तरह खड़े थे, जैसे कोई विशिष्ट हस्तियों के सम्मान में किया जाता है। इस विदाई जुलूस का वीडियो वायरल होने के बाद थाना परिसर से संबंधित लग्जरी वाहन आननफानन में नदारद हो गया। स्थानीय नागरिकों के अनुसार बुधवार को विदाई जुलूस के बाद यह वाहन जैतपुर से लौटकर वापस बसखारी थाने आया था।

रिपोर्ट: अनुराग उपाध्याय

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *