शिक्षा का निजीकरण व केन्द्रीकरण बंद करे सरकार – शैलेश


मिल्कीपुर अयोध्या
भारत छोड़ो आन्दोलन की 78 वीं वर्षगांठ पर एनएसयूआई ने छात्रों के हितों को लेकर ” अहंकार छोड़ो सरकार ” सत्याग्रह किया। नई शिक्षा नीति में शिक्षा के निजीकरण व केन्द्रीकरण, फाइनल वर्ष के छात्रों को सीधा प्रमोट करने, छात्रों की स्कूल एवं कालेज की फीस माफ़ करने, छात्रावास की फीस और छात्रों के कमरे का किराया माफ़ करने को लेकर एनएसयूआई ने शैलेश शुक्ल के नेतृत्व में प्रदेश भर में एक दिनी अहंकार छोड़ो सरकार सत्याग्रह किया।
इस मौके पर एनएसयूआई नेता शैलेश शुक्ल ने कहा कि देशभर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। लेकिन सरकार अपने अहंकार की वजह से छात्रों को प्रमोट न करके स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। वहीं दूसरी तरफ़ नई शिक्षा नीति में निजीकरण और केन्द्रीकरण को बढ़ावा देकर गाँव- गरीब, मेहनतकश ,वंचित, पिछड़े छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। हम सरकार से मांग करते हैं कि छात्रों की फीस कोरोना काल में माफ़ कर उन्हें प्रमोट करें और शिक्षा का निजीकरण और केन्द्रीकरण बंद करे। इस मौके पर कांग्रेसी नेता संजय तिवारी, शैलेन्द्र पाण्डेय, मोनू तिवारी, विवेक तिवारी, विमलेश यादव, अरूण कुमार, किशन कुमार, प्रत्युष शुक्ला, प्रभाकर पाण्डेय समेत दर्जनों छात्र उपस्थित रहे।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *