शहर के रंगकर्मियों ने अपनी मांगों से संबंधित सदर सांसद को सौंपा ज्ञापन

गोरखपुर। भगीरथ प्रयास न्यूज़ नेटवर्क । गोरखपुर के रंगकर्मियों के लिए हर्ष एवं गौरव का विषय है, कि माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व में मुक्ता काशी मंच का कायाकल्प एवं नवीन दो अन्य प्रेक्षागृह (लघु एवं दीर्घ दर्शक क्षमता वाले) का निर्माण कार्य प्रारंभ हो सका व पूर्णता की ओर अग्रसर है। गोरखपुर थियेटर एसोसिएशन जो गोरखपुर के रंगमंच व रंग कर्मियों का प्रतिनिधित्व करने वाला अग्रणी संगठन है; ने विगत दिवस मुक्ताकाशी मंच रामगढ़ ताल एवं निर्माणाधीन नवीन प्रेक्षागृह का दौरा किया व पाया कि मुक्ता काशी रामगढ़ ताल जो अपूर्ण एवं अव्यवस्थित रूप में अवस्थित था का कायाकल्प हो चुका है। किन्तु रंगमंच की उपयोगिता को ध्यान में रखते हुए अन्य आवश्यक उपकरणों संसाधनों की महती आवश्यकता महसूस की जा रही है। जिसमें सर्वप्रथम मुक्ता काशी मंच की रंगमंच उपयोगिता को ध्यान में रखते हुए एक रंगमंच दक्ष विशेषज्ञ के नेतृत्व में आवश्यक रंगमंचीय उपकरणों से सज्जित कराया जाना व उच्च क्षमता वाले जनरेटर की व्यवस्था प्राथमिक आवश्यकता है।

दूसरी ओर दो नवीन प्रेक्षागृह का निर्माण कार्य चल रहा है जो मार्च 2020 में पूरा होने के लक्ष्य में था।
महोदय, आपके माध्यम से उत्तर प्रदेश शासन से हम आग्रह करते हैं कि क्योंकि उक्त मुक्ता काशी एवं दो अन्य प्रेक्षागृह (प्रोसीनियम रंगमंच) रंगमंच के कलाकारों की बहुप्रतीक्षित एवं रंगमंच को उत्कर्ष प्रदान करने वाली परियोजना है और अपनी पूर्णता की ओर अग्रसर है के निर्माण में शीघ्रता अपनाई जाए। निर्माण के पश्चात उसका संचालन एवं आवंटन प्रक्रिया सुगम एवं सरल बनाया जाए साथ साथ ही इन मंचों के आवंटन मूल्य को न्यूनतम रखा जाए। मुक्ता काशी मंच जो लगभग पूर्ण हो चुका है को शीघ्र अति शीघ्र ऐसे हाथों में हस्तांतरित किया जाए कि रंगमंच के कलाकारों को आसानी से उपलब्ध हो सके। साथ ही इसका आवंटन मूल्य रुपए 1000/- प्रति आयोजन किए जाने की व्यवस्था की जाए। जिससे महानगर की रंग मंचीय गतिविधियां सुचारू ढंग से चल सके और रंगकर्म में गोरखपुर का रंगमंच अपने उत्कर्ष को प्राप्त कर सके। आपके यशस्वी हाथों से यह पुनीत कार्य संभव हो सका तो गोरखपुर का रंगमंच सदैव कृतार्थ रहेगा। रंगकर्मियों ने आग्रह किया कि मुक्ताकाशी मंच एवं नवीन प्रेक्षागृह का हस्तांतरण ऐसे विभाग या हाथों में किया जाए जिससे रंग कर्मियों व संस्कृति कर्मियों के लिए यह सुगमता और सरलता से उपलब्ध हो सके साथ ही इन आयोजन स्थलों की आवंटन राशि भी न्यूनतम होना चाहिए जिससे कला संस्कृति एवं रंगमंच के प्रचार प्रसार में गति आए और गोरखपुर का रंगमंच नित नए कीर्तिमान स्थापित कर सकें। ज्ञापन थियेटर एसोसिएशन के सचिव रवींद्र रंगधर की अध्यक्षता में कार्यकारिणी सदस्य श्री नारायण पांडे मानवेंद्र त्रिपाठी, अजीत प्रताप सिंह, आसिफ जहीर, रीना जायसवाल, अमित पटेल, शैवाल शंकर आदि की उपस्थित मैं सौंपा गया । ज्ञापन सौंपने के दौरान सांसद महोदय ने आश्वासन दिया और कहा कि हम इस पर जल्दी से जल्दी कार्रवाई करेंगे और हम कलाकारों को आश्वस्त करते हैं कि सदैव उनके हित में फैसला लिया जाएगा जिससे गोरखपुर के रंगमंच का विकास हो सके एवं कलाकारों की उन्नति हो सके उन्होंने कहा कि जल्द ही हम मुक्ता काशी एवं नवीन प्रेक्षागृह का दौरा कर स्वयं संज्ञान में लेते हुए उन कमियों को दूर करने का प्रयास करेंगे।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *