पुलिस प्रशासन से नहीं मिला न्याय तो पीड़ित महिला आत्मदाह करने को हुई मजबूर

अमेठी से चलकर लखनऊ के गलियारे से बड़ी खबर

अमेठी 18 जुलाई 2020, भगीरथ प्रयास न्यूज नेटवर्क ब्यूरो रिपोर्ट। लखनऊ की घटना है। अमेठी की रहने वाली गुडिया व उसकी मा साफिया द्धारा आत्मदाह करने की कोशिश मामले मे जिले के जामो थाने के  प्रभारी निरीक्षक रतन सिंह सहित तीन पुलिस कर्मियो को निलंबित कर दिया गया।

मामला उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आते ही तत्काल प्रभाव से मौके पर एसपी व डीएम पहुंचे।

इसे भी देखेंhttps://youtu.be/UyevFQhkn9o

विवादित स्थल पर मौके  का निरीक्षण करने के बाद जिलाधिकारी अरूण कुमार एंव पुलिस अधिक्षक डा ख्याति गर्ग ने जारी वयान में कहा है कि साफिया का उसके पडोसी से नाली का विवाद था जिसमे 9 जुलाई को मारपीट हुई थी  पुलिस द्धारा नियमानुसार कार्यवाही की गयी थी सभी को आई पी सी की धारा 107/116 के तहत पाबंद भी  किया गया था वही पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गुडिया एंव उसकी मां के द्धारा आत्मदाह से संबंधित कोई पत्र नही दिया गया था और न ही एल आई ओ की रिर्पोट थी इस मामले मे थाना प्रभारी जामो,हल्का उप निरीक्षक एंव सिपाही को निलंवित कर दिया गया है मामले की जाँच अपर पुलिस अधीक्षक को सौपी गयी है रिर्पोट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जायेगी।वही जिलाधिकारी अरुण कुमार पुलिस अधीक्षक डॉ ख्याति गर्ग द्वारा आत्मदाह करने वाली महिला के प्रकरण में मौके पर जाकर निरीक्षण किया तमाम जानकारी हासिल की जिस पर पुलिस अधीक्षक महोदया ने प्रभारी निरीक्षक सहित हल्का दरोगा को निलंबित कर दिया जिलाधिकारी ने जांच के आदेश दिए जो भी दोषी होगा बक्सा नहीं जाएगा पुलिस अधीक्षक कड़ा रुख अख्तियार करते हुए बड़ी कार्रवाई की जांच के आदेश दिए
उधर लखनऊ पुलिस की बात माने तो अमेठी के ही 4 लोगों ने महिला को उकसाया था आत्मदाह करने व मामले को हाईलाइट करने के लिए लेकिन फिर भी एक सवाल जरूर उठता है कि अमेठी पुलिस प्रशासन ने महिला के साथ न्याय नहीं किया इसलिए उसने इतना बड़ा घातक कदम उठाया

✍🏻अमेठी से भगीरथ प्रयास न्यूज़ नेटवर्क के लिए दुर्गेश शर्मा की रिपोर्ट

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *