प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना अंतर्गत पूरी पारदर्शिता के साथ किया जाए लाभार्थियों का चयन -जिलाधिकारी

भगीरथ प्रयास न्यूज नेटवर्क अमेठी|

अमेठी 4 अगस्त 2020, जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के उप घटक ‘पर ड्रॉप मोर क्राप’ की जनपद स्तरीय क्रियान्वयन समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने जिला उद्यान अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि योजना के अंतर्गत विभिन्न घटकों टपक (ड्रिप) तथा स्प्रिंकलर सिंचाई के लिए लाभार्थियों का चयन पूरी पारदर्शिता के साथ किया जाए, योजना अंतर्गत स्थापित होने वाले संयंत्रो की उच्च गुणवत्ता सुनिश्चित की जाय तथा स्थापित के लिए प्रतिष्ठित फार्म से ही उपकरणों की खरीद करें । उन्होंने कहा कि विभागीय योजनाओं का लाभ प्रदान करने में किसानों का किसी भी प्रकार से व किसी भी स्तर पर शोषण नहीं होना चाहिए यदि इसमें किसी भी प्रकार की अनियमितता पाए जाने पर संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी। जिला उद्यान अधिकारी ने बताया कि योजना अंतर्गत जनपद में ड्रिप के 350 व स्पिनर सिंचाई के 1150 लक्ष्य प्राप्त हुए हैं । जिला उद्यान अधिकारी ने बताया कि जनपद मे क्राफ्ट की औद्यनिक फसलों में आम, अमरूद, केला पपीता तथा सब्जियों वा अन्य कम दूरी वाली फसलों आदि में ड्रिप सिंचाई पद्धति उपयोगी होती है। साथ ही उन्होंने बताया कि पत्तेदार सब्जियों में आलू, मटर सहित अन्य सब्जियों तथा कृषि फसलों में स्प्रिंकलर सिंचाई पद्धति बहुत ही उपयोगी होती है। उन्होंने बताया कि इस सिंचाई पद्धति से पानी की बचत होती है व पौधों को उनकी आवश्यकता के अनुसार प्रतिदिन पानी की आवश्यकता पूर्ण होने के साथ-साथ प्रतिदिन पौधों को आवश्यकता अनुसार आवश्यक तत्वों की फर्टिगेशन भी की जा सकती है जिसका स्पष्ट प्रभाव उत्पादन पर पड़ता है साथ ही उत्पादन की गुणवत्ता भी श्रेष्ठ होती है। जिला उद्यान अधिकारी ने जिलाधिकारी महोदय को अवगत कराया की योजना जनपद के समस्त विकास खंडों में संचालित की जानी है स्वयं की जोत वाला कोई भी किसान इस योजना का लाभ ले सकता है। कृषि क्षेत्रों में ड्रिप अथवा स्प्रिंकलर स्थापना पर आने वाले व्यय का निर्धारित इकाई लागत के सापेक्ष लघु एवं सीमांत किसानों को 90% एवं अन्य कृषकों को 80% अनुदान अनुमन्य है। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा. अंकुर लाठर, जिला कृषि अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी, प्रबन्धक जिला अग्रणी बैक सहित अन्य सम्बंधित मौजूद रहे।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *