2021 की शुरुआत तक मिल जाएगी वैक्सीन, अमेरिका में ढाई लाख लोग ट्रायल के लिए तैयार

वाशिंगटन.भगीरथ प्रयास न्यूज़ नेटवर्क. अमेरिका के सबसे बड़े संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फासी ने विश्वास जताया है कि अगले साल (2021) की शुरुआत तक कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार हो जाएगी. उन्होंने सांसदों को बताया कि लगभग ढाई लाख लोग क्लीनिकल ट्रायल में भाग लेने के लिए स्वेच्छा से तैयार हैं. शुक्रवार को संसदीय सुनवाई के दौरान फासी के साथ अन्य अधिकारियों ने स्वीकार किया कि शेष बचे लोगों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट दो से तीन दिनों के भीतर नहीं आ सकती है.

इसी के साथ उन्होंने संयुक्त रूप से अमेरिकियों से मास्क पहनने, भीड़ से बचने और बार-बार हाथ धोने जैसी बुनियादी सावधानियों का पालन करने की अपील की. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिजीज के प्रमुख फासी ने कहा, हम पूरी तरह आशावादी हैं कि इस वर्ष के अंत तक या अगले वर्ष की शुरुआत में हमारे पास एक वैक्सीन होगी. मुझे नहीं लगता है कि यह एक सपना है. मेरा मानना है कि यह एक वास्तविकता है और यह पूरा होते दिखाई देगा.

बता दें कि व्हाइट हाउस के आदेश के तहत संघीय स्वास्थ्य एजेंसियों और रक्षा विभाग ने ऑपरेशन वार्प स्पीड के तहत 30 करोड़ वैक्सीन बनाने की घोषणा की है. इस ऑपरेशन का उद्देश्य है कि पहले कोरोना वायरस के वैक्सीन को विकसित किया जाए, फिर उसे बनाया जाए और उसका वितरण किया जाए. हालांकि इस टीके को अमल तभी लाया जा सकेगा जब एफडीए टीके के सुरक्षित और प्रभावी होने की गारंटी दे देगा.

उधर वैक्सीन का ट्रायल कर रहे रूस ने एक बड़ा दावा किया है. रूसी न्यूज एजेंसी ने एक रिपोर्ट के हवाले से दावा किया है कि रूस अक्टूबर से लोगों को बड़े पैमाने पर कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारी कर रहा है. स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको ने कहा कि अक्टूबर में कोरोना वायरस के खिलाफ सामूहिक टीकाकरण अभियान शुरू करने की तैयारी है. डॉक्टरों और शिक्षकों को सबसे पहले वैक्सीन लगाई जाएगी.

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *